सघन मिशन इंद्रधनुष 2.0 को बनाएं गेमचेंजर अभियान: डॉ. हर्षवर्धन

img

जयपुर
केंद्रीय चिकित्सा मंत्री डॉ. हर्षवर्धन ने कहा कि प्रदेश का कोई भी बच्चा व गर्भवती महिलाएं टीकाकरण अभियान से वंचित ना रहें। उन्होंने आव्हान किया कि 'सघन इंद्रधनुष मिशन 2.0' देश का सबसे बड़ा गेमचेंजर अभियान बने और देश से जिस प्रकार पोलियो का उन्मूलन हुआ उसी तरह अन्य बीमारियों का भी जड़ से खात्मा हो। डॉ. हर्षवर्धन दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्रालय से देश के सभी राज्यों के स्वास्थ्य मंत्रियों और वरिष्ठ अधिकारियों से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए दिसंबर माह से प्रारंभ हो रहे 'सघन इंद्रधनुष मिशन' अभियान की तैयारियों पर चर्चा कर रहे थे। उन्होंने देश के राज्यों को संबोधित करते हुए कहा कि मुझे खुशी है कि टीकाकरण के मामले में सभी राज्यों ने अपेक्षाकृत बेहतर प्रदर्शन किया है, लेकिन अब समय आ गया है जब हम शत-प्रतिशत टीकाकरण करवाकर, अपने पिछले सभी रिकॉड्र्स तोड़ दें। उन्होंने कहा कि जहां अभी तक रीच नहीं हो पा रही वहां माइक्रो स्टे्रटजी अपनाकर काम करें। राज्य के चिकित्सा एवं स्वास्थ्य मंत्री डॉ. रघु शर्मा ने केंद्रीय मंत्री को आश्वस्त करते हुए कहा कि राज्य में अभी तक 88.5 प्रतिशत टीकाकरण हो चुका है और तय समय तक इसे शत-प्रतिशत के स्कोर तक पहुंचा दिया जाएगा। उन्होंने कहा प्रदेश में चार चरणों में यह अभियान चलाया जाएगा। पहले चरण में 2 दिसंबर से, दूसरे चरण में 6 जनवरी से, तीसरे चरण में 3 फरवरी से और चौथे चरण में 2 मार्च से पूरे सप्ताह यह अभियान चलाया जाएगा। उन्होंने कहा कि प्रदेश की आंगनबाड़ी कार्यकर्ता, आशा सहयोगिनियों, एएनएम और अन्य स्वास्थ्य कार्यकर्ताओं के जरिए वृहद स्तर पर टीकाकरण का कार्य करवाया जा रहा है। उन्होंने कहा कि कई जगहों टीकों के बारे में जागरूकता नहीं होने पर प्रतिरोध भी देखा जाता है लेकिन स्वास्थ्य कार्यकर्ताओं की समझाइश के बाद टीकाकरण किया जाता है। उन्होंने कहा कि अभियान को प्रदेश भर में व्यापक तौर चलाने की सभी तैयारी पूरी कर ली गई हैं। गौरतलब है कि सघन मिशन इंद्रधनुष की प्रभावी क्रियान्विति के लिए महिला एवं बाल विकास, पंचायती राज, शिक्षा विभाग, सूचना एवं जनसम्पर्क विभाग, पुलिस विभाग, श्रम विभाग, नेहरू युवा केन्द्र सहित विभिन्न विभागों का सक्रिय सहयोग भी लिया जा रहा है।