राजीव गांधी संचार क्रान्ति के सूत्राधार थे : उद्योगमंत्री

img

जयपुर
उद्योग एवं राजकीय उपक्रम मंत्री परसादी लाल मीना ने कहा कि पूर्व प्रधानमंत्री स्व. राजीव गांधी संचार क्रांति के सूत्रधार थे और युवाओं को आगे बढ़ाने में उनका महत्वपूर्ण योगदान रहा है तथा उनके बलिदान को कभी भुलाया नहीं जा सकता। मीना सोमवार को यहां बिरला सभागार में भूतपूर्व प्रधानमंत्री स्व. राजीव गांधी के 75वें जयन्ती समारोह के अवसर आयोजित कौशल विकास सत्र में मुख्य अतिथि के रूप में बोल रहे थे। उद्योग मंत्री ने कहा कि राज्य सरकार प्रदेश में युवाओं को रोजगार के अवसर उपलब्ध कराने के लिए प्रयासरत है। उन्होंने कहा कि राजीव गांधी के अधूरे सपने को पूरा करने के लिए अशोक गहलोत सरकार प्रयासरत है। उन्होंने युवाओं का आह्वान करते हुए कहा कि राज्य सरकार ने एमएसएमई एक्ट लागू किया जो युवाओं के रोजगार की दिशा में कारगार साबित होगा। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार ने प्रदेश से बेरोजगारी की समस्या को समाप्त करने के लिए युवाओं के लिए मुख्यमंत्री युवा रोजगार योजना प्रारम्भ की है। योजना के तहत राज्य सरकार युवाओं को पांच साल में 250 करोड़ का अनुदान देगी। कार्यक्रम में महिला एवं बाल विकास राज्य मंत्री ममता भूपेश ने कहा कि स्व. राजीव गांधी देश में 21वीं सदी की संचार क्रान्ति के जनक थे और जिसके कारण आज देश आगे बढ़ा है। उन्होंने कहा कि स्व. राजीव गांधी की युवा सोच ही उनकी विचारधारा थी तथा महिलाओं को पंचायती राज में 33 प्रतिशत आरक्षण, युवाओं को 18 वर्ष की आयु में मताधिकार उनकी देन है। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार के 7 माह के कार्यकाल में अनेक कल्याणकारी कार्य किये गये हैं तथा एक हजार करोड़ रूपये की इन्दिरा गांधी प्रियदर्शनी निधि में बजट का प्रावधान किया गया है। जिससे महिलाओं का विकास होगा। उन्होंने कहा कि वर्ष 2019-20 के दौरान प्रदेश के 75000 युवाओं को विभिन्न विभागों में नौकरी दी जाएगी। उन्होंने कहा कि राजस्थान का इतिहास हर क्षेत्र में गौरवशाली रहा है। युवा देश का भविष्य होते है ऐसे में प्रदेश की तरक्की युवाओं में नजर आती है। उन्होंने युवाओं से कहा कि वे जीवन में दृढ़ निश्चय कर ले तो सफलता निश्चित रूप से मिलेगी। कार्यक्रम की अध्यक्षता करते हुए खेल एवं युवा मामलात् राज्य मंत्री अशोक चांदना ने देश के सबसे युवा प्रधानमंत्री स्व. राजीव गांधी को नमन् करते हुए कहा कि उनके बलिदान को देश कभी भुला नहीं सकता। उन्होंने कहा कि आज के युवाओं को स्व. राजीव गांधी के जीवन से प्रेरणा लेनी चाहिये तथा आत्मविश्वास, मेहनत व समय का सही सदुपयोग करते हुये आगे बढऩा चाहिये। उन्होंने कहा कि हर माता-पिता का सपना होता है कि उसका बेटा बड़ा अधिकारी बने जिससे वह समाज व देश में नाम रोशन कर सकें। उन्होंने जीवन में सफल होने के लिए युवाओं को निरन्तर प्रयास करने पर बल दिया। इस अवसर पर राजस्थान कौशल एवं अजीविका विकास निगम के अध्यक्ष नवीन जैन ने विभाग के कार्यक्रमों की विस्तार से जानकारी देते हुए बताया कि कौशल हमारी जिन्दगी का हिस्सा है, इसमें हमें निरन्तर निखार लाने की जरूरत है। राजस्थान कौशल एवं आजीविका विकास निगम के प्रबन्ध निदेशक डॉ. समित शर्मा ने विभाग की गतिविधियों का प्रस्तुतिकरण देते कहा कि युवाओं में असीमित क्षमताएं होती है जिसका सही उपयोग कर देश व प्रदेश का नाम रोशन करें। उन्होंने युवाओं से कहा कि सतत् परिश्रम करके ही लक्ष्य प्राप्त किया जा सकता है। कार्यक्रम में युवा आइकन के रूप में आए भारतीय प्रशासनिक सेवा में टापर रही टीना डाबी व उनके पति अतहर आमिर ने कहा कि जीवन में आत्म विश्वास एवं मेहनत से ही सफलता प्राप्त की जा सकती है। उन्होंने कहा कि जीवन में आने वाली हर चुनौतियों का डटकर मुकाबला करें तभी लक्ष्य को प्राप्त कर सकते है। भारतीय कौशल विकास विश्वविद्यालय के एस.एस.पाब्ला ने युवाओं को रोजगारोन्मुख कौशल के बारे में जानकारी देते हुए बताया कि युवाओं के पास रोजगार के कई विकल्प हैं। उन्होंने कहा कि मेहनत व लगन से अपने लक्ष्य को हासिल किया जा सकता है। यूथ आइकन अर्जुन पुरस्कार अवार्डी रजत चौहान ने युवाओं से कहा कि कड़ी मेहनत, योजनाबद्ध एवं उद्देश्य बनाकर हम जीवन में सफल हो सकते हैं। बॉलीवुड सिंगर रोहित शर्मा ने ए वतन, मेरे वतन, मेरा रंग दे बसंती चोला, की सुमधुर प्रस्तुति से सभागार को सरोबार कर दिया। इस अवसर पर विभिन्न क्षेत्रों में सफलता अर्जित करने वाले यूथ आइकनों में अंजली बंसीवाल, अक्षय हाडा, अंकित जैन, मनु कम्बोज एवं आयुष सोनी ने अपने-अपने क्षेत्र में किस तरह से सफलता अर्जित की इसकी कहानी बयां की।