'ट्रिपल प्ले' प्लान में ब्रॉडबैंड, टीवी और लैंडलाइन सर्विस तीनों देगा जियो, चल रही है टेस्टिंग

img

नई दिल्ली
रिलायंस जियो ब्रॉडबैंड और डीटीएच सेक्टर में भी तेजी से जगह बनाना चाहता है और इसके चलते कस्टमर्स के लिए कई आकर्षक प्लान्स लेकर आ रहा है। रिलायंस जियो की ओर से होने वाली गीगाफाइबर FTTH (फाइबर-टू-द-होम) सर्विस कुछ ही महीनों में लॉन्च होने वाली है और अब इसके प्लान्स से जुड़ी जानकारी सामने आई है। कुछ दिन पहले ही सामने आया था कि जियो गीगाफाइबर सर्विस के साथ 'ट्रिपल प्ले' समेत कई रिचार्ज प्लान्स लेकर आएगा। ट्रिपल प्ले में डीटीएच, ब्रॉडबैंड और लैंडलाइन सर्विस, तीनों एक ही कनेक्शन पर मिलेंगी। आप जानते हैं कि देश के कई हिस्सों में रिलायंस जियो अपनी गीगाफाइबर सर्विस की मदद से अपने कर्मचारियों और कुछ कस्टमर्स को इंटरनेट सेवाएं दे रहा है। टेलिकॉम टॉक के मुताबिक, अब जियो एक नया ट्रिपल प्ले प्लान भी टेस्ट कर रहा है। हालांकि, इस सर्विस के लिए कस्टमर्स को कितना खर्च करना होगा, इसके डीटेल्स पूरी तरह सामने नहीं आए हैं। कहा जा रहा है कि ट्रिपल प्ले प्लान 28 दिनों की वैलिडिटी के लिए आएगा और इसमें 100 जीबी हाई-स्पीड डेटा (100mbps स्पीड तक), अनलिमिटेड वॉइस कॉलिंग, जियो होम टीवी का सब्सक्रिप्शन और जियो ऐप्स का ऐक्सेस यूजर्स को मिलेगा। जियो गीगाफाइबर के सामान्य यूजर्स को पुराने प्लान में 100 जीबी डेटा 30 दिनों के लिए मिल रहा है और साथ ही 1000 जीबी बोनस डेटा भी दिया जा रहा है। बोनस डेटा को 40 जीबी के सेट्स में बांटा गया है। इसके मुकाबले ट्रिपल प्ले प्लान फिलहाल केवल रिलायंस जियो कर्मचारियों के लिए एक्सक्लूसिव हो सकता है। संभव है कि इसकी टेस्टिंग के बाद बहुत जल्द इसे सभी यूजर्स के लिए रोलआउट किया जाए। अगले कुछ सप्ताह में कंपनी इससे जुड़े बड़े अनाउंसटमेंट कर सकती है। कयास लगाए जा रहे हैं कि प्लान 600 रुपये के आसपास हो सकता है। कंपनी के ट्रिपल प्ले प्लान की खास बात इसमें मिलने वाला जियो होम टीवी सब्सक्रिप्शन है। कई अफवाहों के मुताबिक, जियो अपनी आईपीटीवी सर्विस (या जियो गीगा टीवी) के लिए कर्मचारियों के साथ ट्रायल्स कर रहा है। संभव है कि ये अफवाहें सच हों क्योंकि सामने आए प्लान में साफ कहा गया है कि कस्टमर्स को 28 दिनों के लिए जियो होम टीवी की सेवाएं भी दी जाएंगी। इसके अलावा जियो ब्रॉडबैंड, टीवी और बाकी बिल्स को एक में ही समेटने जा रहा है। ऐसे विकल्प बाकी देशों में मौजूद हैं, लेकिन भारत में यह अपनी तरह का पहला प्लान होगा।

whatsapp mail